जिह्वां पर हो नाम तुम्हारा प्रभुवर ऐसी भक्ति दो सम भावों से कष्ट सहुं बस मुझमें ऐसी शक्ति दो

जिह्वां पर  हो नाम तुम्हारा प्रभुवर ऐसी भक्ति दोसम भावों से कष्ट सहुं बस  मुझमें ऐसी शक्ति दोकिन जन्मों में कर्म किए थे आज उदय में आएं हैंकष्टों का कुछ…

Continue Reading जिह्वां पर हो नाम तुम्हारा प्रभुवर ऐसी भक्ति दो सम भावों से कष्ट सहुं बस मुझमें ऐसी शक्ति दो